भोपाल

हुसैन टेकरी में जनसुविधा के इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलप करेंगे : सीईओ जाफरी

भोपाल/जावरा/नरसिंहपुर केसरी- हुसैन टेकरी में हर साल चहल्लुम शरीफ में लाखों श्रद्धालु आते है। बाबजूद यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए जरूरी सुविधाएं उपलब्ध नहीं होती। हुसैन टेकरी 1882 में स्थापित हुई एवं 1942 से यहां चहल्लुम बनाया जा रहा है। चहल्लुम सराय, भोजनालय, स्थानीय चिकित्सालय सुविधा घर नहीं होने से जायरीनों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसे लेकर चहल्लुम में पहली बार शिरकत करने आए म.प्र. वक़्फ़ वोर्ड भोपाल के सीईओ सैयद शाकिर अली ज़ाफ़री बताया की हर बार कमेटी बजट का रोना रोती है प्रोजेक्ट स्वीकृत नहीं होने से विकास कार्य रुके होने की बात कहती है। सच्चाई क्या है। क्या वास्तव में म.प्र. वक़्फ़ बोर्ड सहयोग नहीं करता या स्वीकृति नहीं देता इसके जवाब में बोर्ड सीईओ श्री जाफरी ने कहा समय पर प्रोजेक्ट बनाकर भेजें तो स्वीकृति में कोई दिक्कत नहीं आएगी जब कभी चहल्लुम या अन्य बड़े आयोजन हो तो दो से तीन महीने पहले सुव्यवस्तिथ प्लानिंग व इस्टीमेट भेजना चाहिए निश्चित तौर पर तकनीकी राय शुमारी के बाद स्वीकृति मिलेगी जहां तक डेवलपमेंट की बात है। तो यहां श्रद्धालुओं के लिए स्वास्थ्य सुविधा, शिक्षा, परिसर में ड्रेनेज एवं ठहरने के लिए बड़ी सराय, सुविधाघर जैसें इंफ्रास्ट्रक्चर होना चाहिए। आगे आपने बताया सेंट्रल वक़्फ़ बोर्ड से तो यहां के विकास कार्यों के लिए 90 लाख रुपया स्वीकृत है। बस जिम्मेदारी लेने वाला चाहिए काम शुरू हो सकता है। अब चहल्लुम के बाद हम कमेटी व प्रशासन के साथ कॉर्डिनेट करके जरूरी विकास कार्यों को मूर्त रूप देंगे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close