जबलपुर समाचार

एटीएम फ्राड वाले अंतर्राष्ट्रीय गिरोह के 2 सदस्य गिरफ्तार

एटीएम से 10 दिनों में 134 बार में 92 लाख 39 हजार रूपये निकाल कर की धोखाधडी

जबलपुर/नरसिंहपुर केसरी- 

गिरफ्तार आरोपी-
1- शाकिर हुसैन पिता अब्दुल रज्जाक उम्र 30 वर्ष निवासी  ग्राम टाईन जिला नूहू हरियाणा
2- इंजमाम उल हक पिता अहमद रज्जाक उम्र 24 वर्ष निवासी  ग्राम हिगनपुर जिला मेवात हरियाणा

फरार आरोपी –
1- मोह0 हुसैन, 2- अजरूद्दीन, 3-ं शमीम सभी निवासी हरियाणा

जप्ती- विभिन्न बैंकों के 86 एटीएम कार्ड, 3 पैन कार्ड, 3 आधार कार्ड, 1 चैक बुक एवं नगदी 11 हजार 500 रूपये तथा 3 मोबाईल जप्त।

          भारतीय स्टेट बैंक शाखा प्रबंधक हरीश कुमार दयारमानी उम्र 54 वर्ष निवासी नव आदर्श कालोनी कमला नेहरू नगर गढा ने पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) को एक लिखित शिकायत की कि एक्सिस बैंक के एटीएम धारकों के द्वारा एसबीआई एटीएम से पैसे निकाले जा रहे हैं, तथा धोखाधडी कर पैसे निकाले जाने की एक्सिस बैंक धारकों के द्वारा एसबीआई बैंक में शिकायत कर रिफंड पैसों की मांग की जा रही हैं दिनाॅक 2 अप्रैल से 12 अप्रैल के बीच 134 बार में लगभग 92 लाख 39 हजार रूपये धोखाधडी कर निकाले गये हैै। शिकायत पर थाना ओमती में अज्ञात के विरूद्ध धारा 420, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा घटित हुई घटना को गम्भीरता से लेते हुये आरोपियों पतासाजी कर शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति. पुलिस अधीक्षक शहर उत्तर/यातायात  संजय कुमार अग्रवाल एवं नगर पुलिस अधीक्षक ओमती आर.डी. भारद्वाज के मागदर्शन में थाना ओमती की टीम गठित कर लगायी गयी।
गठित टीम के द्वारा मिले फुटेज के हुलिये के आधार पर आज दिनाॅक 16-4-21 को कारमचंद के पास दबिश देकर शाकिर हुसैन पिता अब्दुल रज्जाक उम्र 30 वर्ष निवासी  ग्राम टाईन जिला नूहू हरियाणा एवं इंजमाम उल हक पिता अहमद रज्जाक उम्र 24 वर्ष निवासी  ग्राम हिगनपुर जिला मेवात हरियाणा को पकड़ा गया एवं सघन पूछताछ करते हुये दोनो के कब्जे मे लिये हुये बैग की तलाशी ली गयर तो दोनों बैगों में विभिन्न बैंकों के 86 एटीएम कार्ड, 3 पैन कार्ड, 3 आधार कार्ड, 1 चैक बुक एवं नगदी 11 हजार 500 रूपये तथा 3 मोबाईल रखे हुये मिले, दोनों को थाने लाया गया एवं सघन पूछताछ की गयी तो अपने तीन अन्य साथी मो. हुसैन, अजरूद्दीन, एवं शमीम के साथ मिलकर विभिन्न बैंको के एटीएम से रूपये निकालना स्वीकार  करते हुये बताये कि  मोह. हुसैन ने हम सभी को एटीएम से पैसा निकालने के दौरान पैसे को रोके रखने पर मशीन से ट्राजक्शन फेल बता देता है उसके बाद पैसा खींचकर निकाल लेते है, फिर बैंक को फोन कर बताते है कि पैसा निकाल रहे थे , पैसा नहीं निकला और खाते से पैसा कट गया है, शिकायत पर बैंक 6-7 दिन में पैसे खाते में वापस कर देता है, इसके लिये हम लोगों ने गाॅव के पहचान वालों को 10 हजार रूपये देने का कहकर एटीएम कार्ड ले लेते है, एवं उनके खाते मे पैसा डालकर दूसरे राज्यों मे जाकर एटीएम से पैसा निकालते है, पैसे निकलने की प्रकिया के समय एटीएम मशीन के पीछे लगा स्विच बंद कर देते है, इस हेतु एैसे एटीएम मशीन को चुनते है जिस एटीएम में स्वीच वाला दरवाजा खुला रहता है, एक लड़का पैसा निकालता है दूसरा पैसा निकलते समय स्विच बंद कर देता है, बाद में पैसा निकालकर एटीएम मशीन को चालू कर देते हैं जिससे ट्रांनजेक्शन फेल बता देता है, फिर बैंक के कस्टमर केया में फोन लगाकर अपने खाते से पैसा निकलना बताकर बैंक से पैसा रिफंड करा लेते है। हरियाणा में पैसा रिफंड नही होता है हरियाणा में कई बार हमारे गाॅव के लडके पकडे जा चुके हैं इसलिये दूसरे राज्यों मे जाकर एटीएम से पैसा निकालते है।

उल्लेखनीय भूमिका –  आरोपियो को तलाश कर पकडने में उप निरीक्षक सतीश झारिया,आरक्षक प्रमोद, ओमनाथ, अजीत, निखलेश, राहुल मिश्रा, महिला आरक्षक प्रियंका, अभिमा की सराहनीय भूमिका रही।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close