भोपाल

मौलाना वली रहमानी साहब के लिए शोक सभा कर उनकी जीवनी पर रखे विचार

मौलाना वाली रहमानी साहब की कमी हमेशा खलेगी मुझे - विधायक आरिफ मसूद

भोपाल/नरसिंहपुर केसरी- मौलाना सैय्यद मोहमद वाली रहमानी, जनरल सेक्रेटरी आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड एवं अमीर शरीयत बिहार,ओडिशा और झारखण्ड के इंतेकाल पर आज भोपाल के इंदिरा प्रियदर्शनी कॉलेज में ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के मेम्बर विधायक आरिफ मसूद द्वारा एक ताजियति मजलिस (शोक सभा) का आयोजन कोविड के नियमों का पालन करते हुए हाॅल में किया गया। इस सभा में शहर के मशहूर इस्लामिक विद्वान मुफ्ती ए- शहर, मुफ्ती अबुल कलाम काशमी,नायब मुफ्ती रईस अहमद कासमी एवं ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लाॅ बोर्ड के मौलाना मसीह आलम, मुफ्ती अली कदर, हसन ने अपने विचार रखे एवं सभा का संचालन मुफ्ती फैयाज अहमद ने किया, एम.एस हसन पत्रकार के अलावा अच्छी तादाद में मुस्लिम धर्मावलम्बी शामिल हुए और मौलाना वली रहमानी के व्यक्तितव एवं उनके द्वारा किये गए सराहनीय कार्यों पर विस्तार से अपने-अपने विचार रखे।

सभा में मौजूद लोगों ने मौलाना की मगफिरत के लिए अल्लाह (ईश्वर) से उनके दरजात को बुलंद करके जन्नत में उच्चतम स्थान प्रदान करने की दुआ की गई। शहर काजी सैय्यद मुश्ताक अली नदवी ने दुआ कराई।
इस अवसर पर शहर काज़ी सै. मुश्ताक अली नदवी ने कहा मौलाना वली रहमानी आज हमारे बीच में नहीं रहे इसकी कमी हमेशा रहेगी। मौलाना हमेशा कौम के मस्लों पर लगातार अपनी कोशिशों से हल करते थे मिल्लत के तमाम मसलों पर बेवाकी से अपनी राय रखते थे।
मुफ्ती ए शहर अबुल कलाम ने कहा मौलाना का ताल्लुक भोपाल से भी था और मौलाना हमेशा कोम की मिल्लत की फ्रिक में अपना वक्त लगाते थे। आज मुल्क ने एक अच्छे आलिम दानेश्वर को खो दिया है मौलाना की काम को हमेशा याद किया जायेगा।

ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लाॅ बोर्ड के मेम्बर और विधायक आरिफ मसूद ने कहा कि मौलाना एक निडर, बेबाक और बहुत ही दूरदर्शी लीडर एवं इस्लामिक विद्वान थे। मसूद ने अपने विचार के दौरान कहा कि मौलाना सरकारी काम-काज एवं उसके द्वारा लिए जाने वाले फैसले पर भी अपनी पैनी नजर रखते थे। वह पहले ही भांप लेते थे की सरकार के यह फरमान हमारे लिए कितना फायदा और कितना नुकसान करने वाला है। उन्होंने कहा कि मौलाना चाहते थे की वक्फ प्रॉपर्टी के लिए अगर एक्ट सही बन जाता तो इस में मुस्लिमों की भलाई है। इस काम के लिए उन्होंने उस समय कांग्रेस एवं सरकार  से मिलकर बात भी की  मोलाना बहुत ही मिलनसार ओर नेक दिल थे जब भी मिलते थे बहुत ही खुलुस के साथ मिलते थे मोलाना की कमी हमेशा खलेगी मुझे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close