प्रादेशिक

प्रदेश में ग्राम पंचायतों के नियोजित विकास के लिये बनेगा प्लान

राज्य मंत्री श्री पटेल ने सतना जिले के खमरिया में उच्च-स्तरीय पुल का किया शिलान्यास

सतना/नरसिंहपुर केसरी- पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रामखेलावन पटेल ने कहा है कि मध्यप्रदेश को विकसित और आत्म-निर्भर बनाने के लिये रोडमैप तैयार किया गया है। अब नगरीय क्षेत्रों की तरह ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिये ग्राम पंचायतों के सुनियोजित विकास का प्लान तैयार किया जायेगा। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों का विकास तेजी से तभी संभव होगा, जब उन्हें शहर से सड़क और पुलों के माध्यम से जोड़ दिया जायेगा। राज्य मंत्री पटेल आज सतना जिले के रामपुर बघेलान क्षेत्र के ग्राम गढ़वाखुर्द में टमस नदी पर उच्च-स्तरीय पुल के शिलान्यास समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर विधायक विक्रम सिंह भी मौजूद थे।

राज्य मंत्री पटेल ने बताया कि केन्द्र सरकार की ओर से केन्द्रीय सड़क निधि के अंतर्गत 10 करोड़ 54 लाख रुपये लागत के उच्च-स्तरीय पुल का शिलान्यास किया जा रहा है। सांसद गणेश सिंह ने अपने संबोधन में बताया कि केन्द्रीय सड़क निधि से उच्च-स्तरीय पुल स्वीकृत किया गया है। खमरिया गाँव में बनने वाले पुल से 20 हजार ग्रामीण आबादी का शहर से सीधा सम्पर्क और आवागमन की सुविधा मिल जायेगी। उन्होंने बताया कि केन्द्रीय सड़क निधि से इस क्षेत्र में 3 उच्च-स्तरीय सड़कें भी बन रही हैं। इस मौके पर स्थानीय जन-प्रतिनिधि मौजूद थे।

पुस्तकालय भवन का लोकार्पण

पिछड़ा वर्ग अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री पटेल ने तहसील अमरपाटन के ग्राम पंचायत डिठौरा में करीब 9 करोड़ 25 लाख रुपये की लागत से नव-निर्मित पुस्तकालय भवन का लोकार्पण किया। पटेल ने इस मौके पर कहा कि नई शिक्षा नीति में अब प्रत्येक 15 से 25 किलोमीटर की दूरी पर पूर्ण शिक्षा सुविधा मुहैया करवायी जायेगी। उन्होंने बताया कि नई शिक्षा नीति का लाभ एक वर्ष के भीतर नागरिकों को मिलना शुरू हो जायेगा। कार्यक्रम को सांसद गणेश सिंह ने भी संबोधित किया।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close