जबलपुर समाचार

नकली नोट के कारोबार मे लिप्त 2 जालसाज पकड़े गये

कब्जे से 100 रूपये, 50 रूपये, 20 रूपये, 10 रूपये के 3 असली नोट तथा 50 रूपये के चूरन वाले नोटों की 07 गड्डियां, एवं अलग-अलग नोट के साईज की कागज की केारी 40 गडडियां, 03 मोबाईल, 02 सील जप्त

जबलपुर/नरसिंहपुर केसरी- थाना ग्वारीघाट अपराध क्रमांक 42/21 धारा 489 क, 420, 34 भादवि

गिरफ्तार आरोपी –
1. राजेश शुक्ला पिता चिन्तामणी शुक्ला उम्र 45 वर्ष निवासी हाल पता म0नं0 1174 कैलाषपुरी शंकर किराना स्टोर के पास गुप्तेष्वर हाथीताल थाना गोरखपुर
2. राजेन्द्र गुप्ता पिता स्व0 फूलचन्द्र गुप्ता उम्र 35 वर्ष निवासी कैलाषपुरी पहाडिया गुप्तेष्वर मंदिर के सामने थाना गोरखपुर जबलपुर

जप्ती –
1. असली 3 नोट 100 रूपये, 50 रूपये, 20 रूपये, 10 रूपये के ।
2. 50 रूपये के चूरन वाले नोटों की 07 गड्डियां प्रत्येक गडडी में 100 नोट है ।
3. 50रूपये, 100 रूपये, 500 रूपये, 2000 रूपये के नोटों के आकार की सफेद कागज की बैग मे रखी हुई केारी 40 गड्डियां ।
4. कैमिकल बनाने का काले रंग का स्टील का कटोरा, 02 काले रंग के कांच खाकी रंग के कागज में लिपटे हुये
5. 03 मोबाईल फोन
6. 02 सीलें जिनमें से एक शासकीय पुष्पराज विद्यालय रीवा के प्रिसीपल की, दूसरी अटेस्टेड लिखी।

मनोहर सिंह पटैल उम्र 58 निवासी सन सिटी कालोनी कंचनपुर अधारताल द्वारा पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से. ) को बताया गया कि राजेश शुक्ला नाम का व्यक्ति जाली नोट का कारोबार करता है। जो असली नोट के बदले 5 गुना नकली नोट देने की बात कर रहा है।
पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से. ) द्वारा क्राईम ब्रांच को कार्यवाही के सम्बंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये, क्राईम ब्रांच की टीम के द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध गोपाल खाण्डेल एवं नगर पुलिस अधीक्षक भावना मरावी के मार्ग निर्देशन में योजनाबद्ध तरीेके से थाना ग्वारीघाट पुलिस के साथ संयुक्त रूप से दबिश देते हुये जाली नोट के कारोबार मे लिप्त दो आरोपियों को पकड़ा गया, है।
मनोहर वर्मा ने बताया कि वह सीओडी जबलपुर में नौकरी करता है उसके मित्र रोहणी जोसफ ने उसे बताया कि एक आदमी जाली नोट का कारोबार करता है तब वह पिछले रविवार को रोहणी जोसफ के साथ जाकर राजेश शुक्ला नाम के व्यक्ति से दीनदयाल बस स्टेण्ड के पास मिला था जिसने उसे 10 रूपये, 20 रूपये, 50 रूपये, एवं 100 रूपये के नोट सफेद कागज मे कैमिकल लगाकर गर्म पानी में धोकर सुखाकर नोट बनाकर दिखाये तथा राजेश शुक्ला ने उसे 10, 20, 50, 100 रूपये के 4 नोट दिये और कहा था कि सभी नकली हैं लेकिन असली के रूप मे चलेगें जिसके बाद राजेश शुक्ला ने कहा कि सोमवार के दिन शाम 5 से 6 बजे के बीच में कालीमठ के पीछे नर्मदा तट मे मिलेंगे वहाॅ पर तुम एक लाख 20 हजार रूपये लेकर आना और बदले मे तुम्हें 6 लाख रूपये के नकली नोट देंगे जो असली के रूप में चलेंगे, तब उसने यह बात अपने मित्र राजेश दुबे को बतायी।
राजेश शुक्ला के कहे अनुसार दिनाॅक 18-1-21 को वह अपने साथी राजेश दुबे के साथ कालीमठ के पीछे नर्मदा घाट पर शाम लगभग 6 बजे पहुंचा जहां पर राजेश शुक्ला तथा राजेन्द्र गुप्ता मिले जिन्होंने उसके एवं राजेश दुबे के सामने 10, 20, 50, 100 रूपये के नकली नोट बनकर दिखाये, योजना के अनुसार क्राईम ब्रांच एवं थाना ग्वारीघाट का स्टाफ जो नर्मदा घाट काली मठ के पीछे पहले से छिपा हुआ था ने घेराबंदी कर राजेश शुक्ला तथा राजेन्द्र गुप्ता को पकड़ लिया एवं पूछताछ की तो राजेश शुक्ला ने बताया कि वह पहले भी बरगी थाना में नकली नोट बनाते हुये पकड़ा गया था, ।
राजेश शुक्ला निवासी गुप्तेश्वर मंदिर के पास कैलाशपुरी गोरखपुर एवं राजेन्द्र गुप्ता निवासी कैलाशपुरी गोरखपुर को थाना ग्वारीघाट लाया गया जहाॅ दोनो के विरूद्ध धारा 489 क, 420, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर राजेश शुक्ला उम्र 46 वर्ष निवासी गुप्तेश्वर मंदिर के पास कैलाशपुरी गोरखपुर एवं राजेन्द्र गुप्ता उम्र 36 वर्ष निवासी कैलाशपुरी गोरखपुर को प्रकरण मे विधिवत गिरफ्तार करते हुये सघन पूछताछ जारी है।

उल्लेखनीय भूमिका – इस संपूर्ण कार्यवाही मे थाना प्रभारी ग्वारीघाट  विजय सिंह परस्ते उप निरीक्षक श्रीराम रघुवंशी तथा क्राईम ब्रांच के प्रधान आरक्षक धनंजय सिंह, विजय शुक्ला, आरक्षक बृजेंद्र कसाना, नीरज तिवारी, नितिन मिश्रा, बीरबल, मोहित उपाध्याय, दीपक तिवारी की सराहनीय भूमिका रही।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close