गोटेगांव

रानी दुर्गावती विश्वविधालय रासेयो मुक्त इकाई जबलपुर के सात दिवसीय शिविर का हुआ शुभारंभ

गोटेगांव/नरसिंहपुर केसरी- राष्ट्रीय सेवा योजना मुक्त इकाई, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जबलपुर की संगठन व्यवस्था एवं रासेयो कार्यक्रम अधिकारी एवं शिविर निदेशक डॉ. देवांशु गौतम के नेतृत्व एवं रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.कपिलदेव मिश्र एवं राष्ट्रीय सेवा योजना रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जबलपुर की एनएसएस के कार्यक्रम समन्वयक प्रो. अशोक कुमार मराठे के मार्गदर्शन में आयोजित सात दिवसीय नेतृत्व प्रशिक्षण विशेष शिविर का शुभारंभ मुख्य अतिथि एवं संरक्षक  जालम सिंह पटेल (पूर्व राज्यमंत्री एवं विधायक नरसिंहपुर), विशिष्ट अतिथि हाकम सिंह चढ़ार(पूर्व विधायक गोटेगांव) जनपद अध्यक्ष संतोष दुबे  पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष राजकुमार जैन, नगर पालिका उपाध्यक्ष डॉ जितेंद्र चौबे, पूर्व मंडल अध्यक्ष निधान सिंह पटेल कलचुरी समाज अध्यक्ष पंकज चौकसे ठेकेदार शक्ति सिंह राजपूत की उपस्थिति  में शिविर का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम के प्रथम चरण में  समस्त अतिथियों का शिविर परिसर में  ढोल निर्धन व लोक नृत्य के माध्यम से स्वागत किया गया  तत्पश्चात अतिथियों ने स्वामी विवेकानंद के चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की  जिसके पश्चात उद्घाटन कार्यक्रम कार्यक्रम का संचालन कर रहे शिविर नायक निखिल अग्रवाल ने प्रत्येक अतिथियों का देवेंद्र सेन सेवकों के माध्यम से तिलक, शिविर के आई कार्ड, माला एवं पुष्पगुच्छ के माध्यम से स्वागत कराया तत्पश्चात मध्यप्रदेश शासन के आवाहन अनुसार कार्यक्रम की शुरुआत कन्या पूजन व पुष्पमाल्यार्पण कर की गई।
जिसमें मुख्य अतिथि जालम सिंह पटेल के द्वारा  टी-शर्ट ,बैच एवं केप का लोकर्पण कर टी-शर्ट एवं कैप शिविरार्थियों को वितरित किये । इसके पश्चात शिविर निदेशक डॉ. देवांशु गौतम द्वारा शिविर प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए वताया की विश्वविद्यालय से
संबधित सभी आठ जिले जबलपुर, कटनी,मंडला ,डिंडोरी,नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी,बालाघाट के स्वयंसेवक सहभागिता कर रहें है।

जिसमें स्वयंसेवको को इस सात दिन के शिविर में विभिन्न गतिविधियां – पर्यावरण संरक्षण एवं जागरूकता रैली, नशा मुक्ति हेतु जागरुकता कार्यक्रम , पल्स पोलियो जागरूकता अभियान राष्ट्रीय युवा दिवस गाजर घास उन्मूलन रक्तदान शिविर रक्तदान जागरूकता कार्यक्रम कोरोना संक्रमण से संबंधित आवश्यक जानकारी हेतु जागरूकता रैली व कार्यक्रम नशा मुक्त समाज के लिए पोस्टर कंपटीशन तथा स्लोगन नारा लेखन व भाषण प्रतियोगिता कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा और शिविरार्थी शिविर दिनचर्या के अनुरूप अपने सामान्य जीवन से कुछ विशेष है सीखने के लिए शिविर दिनचर्या में जीवन यापन करेंगे।
इसके पश्चात राजकुमार जैन द्वारा छात्रों को उद्बोधन देते हुए कहा कि जिस प्रकार से समाज में चारों तरफ कुरीतियां फैली हुई हैं और राष्ट्रीय एकता व अखंडता की आधारशिला कमजोर हो रही है उस समय एनएसएस (राष्ट्रीय सेवा योजना) और उसके स्वयंसेवक, समाज को चहुमुखी विकास की ओर अग्रसर करने में सहायक होंगे।
इसके पश्चात कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जालम सिंह पटेल पूर्व राज्य मंत्री एवं विधायक नरसिंहपुर द्वारा छात्र-छात्राओं को उद्बोधन प्रदान किया गया और कहा गया कि हम सभी को नशा मुक्त समाज का निर्माण करना है उन्होंने कहा कि चाहे चुनाव हो रैली हो समाज सेवा के कार्य हो या कोई भी अन्य तरह के आयोजन हो, कोई भी गतिविधियों का संचालन हो हम सब को, युवाओं को नशे की लत से दूर कराते हुए अच्छे कामों में संलग्न कराना होगा ताकि युवा राष्ट्र के निर्माण में महती भूमिका अदा कर सकें।
कार्यक्रम के अंतिम चरण में शिव निदेशक डॉ देवांशु गौतम द्वारा मुख्य अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया और राष्ट्रगान के साथ उद्घाटन सत्र का समापन हुआ इसके पश्चात कोविड-19 प्रोटोकॉल के अंतर्गत नियमों का ध्यान रखते हुए मुख्य अतिथियों के साथ छात्र छात्राओं का समूह छायाचित्र हुआ।
कार्यक्रम के अंतिम चरण में शिवरात्रि और शिविर निदेशक द्वारा शिविर उद्घाटन अवसर पर पहुंचे सभी जनप्रतिनिधियों सम्मानीय गणमान्य नागरिकों व ग्रामीण बुजुर्गों व्यक्तियों को स्मृति चिन्ह प्रदान कर
उनका स्वागत किया  जिसके पश्चात कार्यक्रम के सफल आयोजन में बाबा राठौर, आशुतोष मेहरा, गौतम चौहान,  निखिल अग्रवाल, अरविंद लोधी, रोशन प्रजापति, सुबेन्दु मन्ना, अमित शिवहरे, प्रतीक जैन, सुयस श्रीवास्तव, गणेश प्रजापति श्रीराम ठाकुर, रित रुचि कुमारी कुशवाहा,  भगवान दास साहू आदि स्वयंसेवकों का विशेष योगदान रहा।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close