नरसिंहपुर

स्वास्थ्य केद्रों में पर्याप्त दवाईयाॅ उपलब्ध हो – प्रभारी सचिव

विभागीय समीक्षा बैठक सम्पन्न

नरसिंहपुर- आयुक्त एमपी एचआईडीबी एवं जिले की प्रभारी सचिव श्रीमती करलिन खोंगवार देशमुख ने कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में बैठक आहूत कर राजस्व सहित अन्य विभागों के अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। प्रभारी सचिव आज जिले में क्रियान्वित योजनाओं के तहत क्रियान्वित किए गए कार्यो की समीक्षा की।

समीक्षा बैठक में वर्षाकाल के दौरान क्षतिग्रस्त हुई सड़कों एवं पुल पुलियों के संबंध में जानकारी संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा प्रस्तुत की गई। ततसंबंध में प्रभारी सचिव के द्वारा निर्देश दिए गए है कि आवागमन सुचारू रूप से संचालित हो सकें इसके लिए आवश्यक मरम्मत कार्य शीघ्रतिशीघ्र पूर्ण कराया जाए।

श्रीमती देशमुख ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को जिले में संस्थागत प्रसव पर बल देते हुए कहा कि महिला एवं बाल विकास विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग संयुक्त रूप से रणनीति तय कर संस्थागत प्रसव में वृद्वि करें। समीक्षा के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में पर्याप्त मात्रा में दवाईयां उपलब्ध है। उन्होंने जिला और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्दों, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में रिक्त पड़े चिकित्सकों के पदों की जानकारी दी। साथ ही यह भी बताया कि 14 चिकित्सकों की पदस्थापना शासन द्वारा हाल ही में की गई है।

उन्होंने राष्ट्रीय पोषण माह के दौरान आयोजित होने वाली गतिविधियां, खाद्य विभाग के माध्यम से वितरित होने वाली पात्रतापर्चियां, प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों को दी जाने वाली राशि की समीक्षा करते हुए , वन अधिकार अधिकार अधिनियम के तहत प्राप्त आवेदन जो निरस्त किए गए है कि पुनः पर समीक्षा करने के निर्देश संबंधित विभागों के अधिकारियों दिए है।

उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि फसल ऋण माफी योजना में जिन किसानों के नाम शामिल नहीं हो पाए हैं उसका भी लगातार फॉलो किया जाए। उपार्जन के दौरान गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए। पीएचई विभाग द्वारा बैठक में जानकारी दी गई कि जिले में 11192 हैंडपंप स्थापित है जिसमें से 11138 चालू है शेष सुधार योग्य है। प्रभारी सचिव ने कहा कि आगामी ग्रीष्म काल के लिए अभी से रणनीति तैयार की जाए इन क्षेत्रों में पेयजल की समस्या होती है।बंद नल जल योजना की मॉनिटरिंग कर उसे दुरुस्त करने के निर्देश बैठक में पीएचई विभाग के अधिकारियों को दिए।

विद्युत विभाग ने बताया कि नागरिकों ग्रामीण क्षेत्रों में पर्याप्त विद्युत उपलब्धता है। जिला शिक्षा अधिकारी ने विभाग की योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि साईकिल वितरण का 99ः कार्य पूर्ण हो चुका है। प्रभारी सचिव ने कहा कि स्कूली छात्र छात्राओं को शासन की योजनाओं का समय पर लाभ मिले यह सुनिश्चित किया जाए।

महिला बाल विकास विभाग अधिकारी ने बताया कि लाड़ली लक्ष्मी योजना के तहत वर्ष 2019-20 में जिले में 88ः प्रगति हुई है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत निर्माण कार्य में संतुष्टि पूर्ण प्रगति नहीं मिली। प्रभारी सचिव ने संबंधित विभाग के अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि सड़क वार जारी वर्क आर्डर की जानकारी प्रस्तुत करें।

उन्होंने ग्रामीण विकास के अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास की जानकारी तथा शहरी आवास की जानकारी प्राप्त की। महिला बाल विकास विभाग की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि एनआरसी भर्ती बच्चों का फॉलोअप संबंधित क्षेत्र की आंगनवाडी कार्यकर्ता द्वारा कराया जाए। जिले में गौशाला निर्माण के बारे में बताया गया कि जिले को 30 गौशाला निर्माण कराये जाने का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। प्रभारी सचिव ने प्राप्त लक्ष्य के अनुरूप समय सीमा में गौशाला निर्माण कराये जाने के निर्देश दिए।

 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close