नरसिंहपुर

कृषि के अतिरिक्त कृषि आधारित औद्योगिक गतिविधियों हेतु एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न

नरसिंहपुर, 25 अक्टूबर 2019. उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग ने बताया कि आयुक्त जबलपुर संभाग जबलपुर के निर्देशानुसार किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग नरसिंहपुर एवं जिला उद्योग एवं व्यापार केन्द्र नरसिंहपुर के संयुक्त प्रयास एवं परियोजना संचालक आत्मा नरसिंहपुर के सौजन्य से कृषि विज्ञान केन्द्र में जिले के बड़े एवं सक्षम कृषकों को कृषि के अतिरिक्त कृषि आधारित औद्योगिक गतिविधियों से जोड़ने के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमें जिले के 120 बड़े कृषकों ने भाग लिया।
कार्यशाला में उप संचालक कृषि श्री राजेश त्रिपाठी एवं कृषि विज्ञान केन्द्र नरसिंहपुर के वैज्ञानिक डॉ. आशुतोष शर्मा द्वारा जिले के बड़े किसानों को कृषि की उन्नत तकनीकी अपनाकर अपनी आय में वृद्धि के साथ- साथ कृषि के आधारित गतिविधियां अपनाने की आवश्यकता, इसके महत्व एवं संभावनाओं के बारे में किसानों से चर्चा की गई। जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्‍व विद्यालय जबलपुर से आये फूड साईंस के विशेषज्ञ एवं वैज्ञानिक डॉ. एसएस शुक्ला ने जिले में उत्पादित हो रहीं फसलों की खाद्य प्रसंस्करण तकनीकी (जैम, जेली, जूस, मूंग दाल आदि), केनिंग, वाटलिंग एवं खाद्य प्रसंस्करण मशीनरी के बारे में विस्तार जानकारी देकर किसानों को खाद्य प्रसंस्करण इकाई स्थापित करने प्रेरित किया।
जेएनकेव्हीव्ही जबलपुर के एग्री बिजनेंस मैनेजमेंट प्रबंधन से आये बिजनेस मैनेजर सुश्री लवीना शर्मा द्वारा कृषि आधारित उद्योगों की स्थापना के संबंध में प्रशिक्षण प्राप्त करने की सुविधाओं एवं शासन द्वारा दिये जा रहे अनुदान के बारे में कृषकों को जानकारी दी गई। एनटीपीसी गाडरवारा से आये प्रबंधक श्री शर्मा द्वारा बिजली उत्पादन हेतु प्रयुक्त कोयले की राख (प्लाईऐश) का मिट्टी सुधार एवं उर्वरता वृद्धि में उपयोग तथा सीसल की खेती के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। पेप्सिको कंपनी के प्रतिनिधि श्री उपाध्याय द्वारा किसानों को कॉन्ट्रेक्ट फार्मिंग के तहत आलू की खेती करने के संबंध में अवगत कराया गया।
जिले के वरिष्ठ प्रगतिशील कृषक एवं उद्यमी प्रो. श्री सीएस तिवारी द्वारा भी किसानों के समक्ष अपने अनुभव साझा किये गये। सहायक मिट्टी परीक्षण अधिकारी नरसिंहपुर डॉ. आरएन पटैल द्वारा कमिश्नर के निर्देशन में समन्वित कृषि प्रणाली अपनाने हेतु जिले में किये जा रहे प्रयासों के बारे में किसानों को अवगत कराया गया।
कृषि विज्ञान केन्द्र नरसिंहपुर के समन्वयक श्री सहारे द्वारा जिले में पहली बार किये जा रहे अनूठे प्रयास में सम्मलित किसानों एवं अन्य प्रतिनिधियों का कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए आभार व्यक्त किया गया।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close