नरसिंहपुर

बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें सुनिश्चित करें- संभागीय कमिश्‍नर श्री बहुगुणा

नरसिंहपुर07 सितम्बर 2019. संभागीय आयुक्‍त जबलपुर श्री राजेश बहुगुणा ने आज जिला पंचायत के सभाकक्ष में स्वास्थ्य विभाग एवं महिला एवं बाल विकास विभाग की प्रगति की समीक्षा की।

         समीक्षा के दौरान कलेक्टर श्री दीपक सक्सेना, संयुक्‍त आयुक्‍त ग्रामीण विकास श्री अरविंद यादव, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री केके भार्गव, एसडीएम श्री महेश कुमार बमनहा, सीएमएचओ, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास, सिविल सर्जन, समस्त बीएमओ, समस्त परियोजना अधिकारी और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

         श्री बहुगुणा ने पहले स्वास्थ्य विभाग की प्रगति की समीक्षा के दौरान विभाग में डॉक्टर्स व एएनएम की उपलब्धता, स्वास्थ्य सुविधायें आदि पर चर्चा करते हुए कहा कि प्राथमिक स्तर पर ही सक्रियता से कार्य करें, जिससे स्वास्थ्य सुविधाओं में निश्चित ही सुधार होगा। सभी अमला बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें सुनिश्चित करने की दिशा में कार्य करें। उन्होंने कहा कि एएनएम लोकल ऐरिया में जिम्मेदारी के साथ विभागीय सेवायें प्रदान करें और एक एएनएम सेंटर पर रहकर कार्य करे। उन्होंने सीएमएचओ से कहा कि सभी अमला को फंक्शनल करें। निकट भविष्य में जल्द ही नये चिकित्सक आयेंगे।

         विभागीय समीक्षा के दौरान गर्भवती महिलाओं की जानकारी, संस्थागत व घरेलू प्रसव, परिवार नियोजन, पोषण पुनर्वास, क्षय रोग निदान, टीकाकरण, राष्ट्रीय बाल सुरक्षा कार्यक्रम, आयुष्मान भारत, प्रसूति सहायता, आशा व आशा सहयोगिनी, पैथोलॉजी जांच, रैबीज इंजेक्शन की उपलब्धता आदि की विस्तृत समीक्षा किया गया और निर्देशित किया गया कि किसी भी स्थिति में स्वास्थ्य सुविधायें सुनिश्चित करने में लापरवाही न करें। डाटा समय पर पोर्टल पर एंट्री करें।

         उन्होंने बताया कि 7 से 14 नवम्बर के बीच मंडला में एक सर्जरी कैम्प का आयोजन किया जायेगा। जिसमें 20 अक्टूबर तक किन- किन प्रकरणों को मंडला भेजा जाना है, यह सुनिश्चित कर लें और यह भी सुनिश्चित करें कि एक- एक ब्लॉक वाले पारी- पारी से जायें, जिससे वहां भीड़ भी न हो ताकि समय पर इलाज हो सके।

         महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होंने पोषण आहार, अतिकम वजन के बच्चे, एनआरसी में भर्ती बच्चे, प्रधानमंत्री मातृ- वंदना योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना, लाडो अभियान तथा आंगनबाड़ी भवनों की स्थिति के संबंध में विस्तार से समीक्षा कर कहा कि किराये के भवन में लगने वाले आंगनबाड़ी केन्द्रों को शासकीय भवनों में शिफ्ट करें और यह देखा जाये कि जहां- जहां स्कूल या शासकीय दफ्तर हैं, उस कैम्पस में आंगनबाड़ी भवन बनाया जाये।

         विभागीय समीक्षा के दौरान आंगनबाड़ी केन्द्रों में दी जाने वाले नाश्‍ता व मध्यान्ह भोजन के संबंध में निर्देश दिये कि नाश्‍ता व मध्यान्ह भोजन समयानुसार दें, दोनो एक साथ न दें। नाश्‍ता आंगनबाड़ी भवन में ही कार्यकर्ता व सहायिका मिलकर बनायें। आदर्श आंगनबाड़ी के कॉनसेप्ट को विस्तार से बताते हुए कहा कि वहां उद्देश्यानुसार सभी सुविधायें हों, समय पर नाश्ता मिले, समय पर भोजन मिले, स्वच्छता हो, बच्चों की उपस्थिति हो और साथ ही उन्हें स्कूल पूर्व दी जाने वाले शिक्षा के अंतर्गत अक्षर ज्ञान भी हो। श्री बहुगुणा ने डीपीओ महिला एवं बाल विकास को निर्देशित किया कि वे विभागीय योजनाओं के बेहतर परिणाम लाने के लिए आगे आकर काम करें।

         बैठक के दौरान आजीविका मिशन व स्वरोजगार के संबंध में भी डीपीएम एनआरएलएम से प्रगति की जानकारी ली और कहा कि समूह का गठन कर उन्हें सशक्‍त कर रोजगान्मुखी बनाना एक बड़ी जिम्मेदारी है। समूह का गठन करें, वित्तीय सहायता उपलब्ध करायें, बैंक लिंकेज करायें और कौशल उन्‍नयन कर स्वरोजगार स्थापित करायें, जिससे उनकी आजीविका की समस्या का समाधान बेहतर रूप से हो सके। उन्होंने डीपीएम से कहा कि समूह में जुड़े लोगों को जिनके पास कम जमीन है, उन्हें समन्वित कृषि के संबंध में जागरूक करें, जिससे सालभर कुछ न कुछ उत्पादित होता रहे, जिससे अतिरिक्‍त आय भी मिल सके।

         बैठक के दौरान कलेक्टर श्री सक्सेना ने संबंधित अधिकारियों से कहा कि शासन के निर्देश तथा मंशा अनुरूप सभी अधिकारी समय सीमा में बेहतर तथा परिणामूलक कार्य करें।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close