नरसिंहपुर

खाद्य सामग्री में मिलावट रोकने के अभियान में सहभागी बनें व्यापारी

कलेक्टर व एसपी के साथ हुई व्यापारियों की खाद्य सुरक्षा संबंधी बैठक

नरसिंहपुर01 अगस्त 2019. कलेक्टर दीपक सक्सेना एवं पुलिस अधीक्षक डॉ. गुरकरन सिंह के साथ व्यापारियों की खाद्य सुरक्षा संबंधी बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गई। बैठक में जिले के विभिन्‍न व्यापारी संगठन के पदाधिकारी व प्रतिनिधि और संबंधित अधिकारी शामिल हुये।

         बैठक में अपर कलेक्टर मनोज ठाकुर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी केके भार्गव, डॉ. एआर मरावी, खाद्य सुरक्षा अधिकारी मनीष जैन, सारिका दुबे व अमित गुप्ता मौजूद थे।

         बैठक में कलेक्टर दीपक सक्सेना ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ की मंशा के अनुरूप राज्य शासन ने निश्‍चय किया है कि प्रदेशवासियों को बगैर मिलावट के पूरी शुद्धता के साथ खाद्य सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित हो। इसके लिए खाद्य सामग्री में मिलावट को सख्ती से रोकने के लिए पूरे प्रदेश में अभियान चलाया जा रहा है। जिले में भी यह अभियान चलाया जा रहा है और आगे भी जारी रहेगा। श्री सक्सेना ने आग्रह किया कि खाद्य सामग्री में मिलावट रोकने के इस पुनीत अभियान में जिले के व्यापारी सहभागी बनें और सहयोग करें। यह अभियान जनहित, जन स्वास्थ्य और व्यापारियों सहित सभी के स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है।

         कलेक्टर ने कहा कि खाद्य सामग्री के व्यवसाय से जुड़े सभी व्यापारी इस तरह से कार्य करें कि व्यापारी और उपभोक्ता में आपसी विश्‍वास बढ़े। विश्‍वास का वातावरण तैयार हो, इसमें व्यापारी सहयोग करें। अपने साथी व्यापारी को भी समझायें कि वे अपने उपभोक्‍ता को हमेशा शुद्ध खाद्य सामग्री ही उपलब्ध करायें, उनसे कहें कि यदि मिलावट कर रहे हैं, तो नहीं करें। हर स्तर पर सावधानी रखे कि शुद्ध खाद्य सामग्री ही लोगों को उपलब्ध हो। श्री सक्सेना ने व्यापारियों को आश्‍वस्त किया कि अभियान के दौरान बगैर किसी भी पक्षपात के पूरी पारदर्शिता से कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने व्यापारियों से अपेक्षा की कि वे उपभोक्ता को सामान का पक्‍का बिल दें, इससे सामान में शुद्धता की गारंटी मिलेगी।

         कलेक्टर ने भरोसा दिलाया कि यह सुनिश्चित किया जायेगा कि अभियान के दौरान जांच दल के सदस्य व्यापारी के साथ सम्मान से प्रेम पूर्वक बात करेंगे, उन्हें परेशान नहीं किया जायेगा। नियमानुसार कार्रवाई की जायेगी। जांच दल में सीमित सदस्य रहेंगे। बगैर किसी के प्रभाव में आये कार्रवाई की जायेगी।

         पुलिस अधीक्षक ने कहा कि व्यापारियों को तंग करने के मकसद से कोई कार्रवाई नहीं की जायेगी। कार्रवाई के दौरान वीडियोग्राफी की जायेगी। जांच के दौरान यदि कोई दुर्व्यहार करें, तो अवगत करायें। शासन एवं प्रशासन के इस अभियान का लक्ष्य खाद्य सामग्री में मिलावट को पूरी तरह खत्म करना है। इसमें सभी सहयोग करें। शासन के निर्देशों का अभियान के दौरान पूर्णत: पालन सुनिश्चित किया जायेगा। व्यापारियों के साथ आगे भी संवाद बना रहेगा।

         व्यापारियों ने अपने- अपने सुझाव दिये और कहा कि वे जांच- पड़ताल में पूरा सहयोग करेंगे। उन्होंने अपनी व्यावहारिक कठिनाईयों से भी अवगत कराया।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close