नरसिंहपुर

“खुशियों की दास्तां” पिंकी कुशवाहा ने गांव में ही शुरू कर दी कम्प्यूटर व फोटोकापी की दुकान दूसरे गांव के लोग भी आते हैं दुकान पर

नरसिंहपुर25 जुलाई 2019. जिले के करेली विकासखंड के ग्राम गिधवानी में यदि किसी व्यक्ति को फोटोकापी कराना हो या कम्प्यूटर का कोई कार्य कराना हो, तो उसे करेली या अन्यत्र जाना पड़ता था। आसपास के गांवों में भी यह सुविधा नहीं थी। ग्रामवासियों की इस परेशानी को देखते हुए गिधवानी की पिंकी कुशवाहा ने गांव में ही कम्प्यूटर व फोटोकापी की दुकान शुरू करने पर विचार किया। यह दुकान शुरू करने के लिए उनके पास आवश्यक राशि नहीं थी। उनके पति वाहन चालक हैं। इससे उनके परिवार की आमदनी भी बहुत कम थी। परिवार व ग्रामवासियों की परेशानी को देखते हुए पिंकी आजीविका मिशन के स्वसहायता समूह से जुड़ी।

         स्वसहायता समूह से जुड़ने पर पिंकी छोटी- छोटी बचत करने लगी। इसके बाद आजीविका मिशन की मदद से मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अंतर्गत पिंकी कुशवाहा का एक लाख रूपये का लोन कैनरा बैंक से स्वीकृत हुआ। इस राशि से पिंकी ने गिधवानी में ही कम्प्यूटर एवं फोटोकापी की दुकान खोल ली। अब इस दुकान से पिंकी को प्रतिमाह औसतन 4 से 5 हजार रूपये की आय होने लगी है। पिंकी बताती हैं कि अब तो गिधवानी के अलावा रहली, सासबहू, भुगवारा, कठौतिया गांव के लोग भी फोटोकापी या कम्प्यूटर का काम कराने के लिए आने लगे हैं। इससे ग्रामवासियों को बहुत सहूलियत हुई है और आमदनी बढ़ने के कारण परिवार का गुजारा भी अच्छे से होने लगा है। पिंकी कहती हैं कि भविष्य में अपनी दुकान को और बढ़ायेंगी। पिंकी ने अब अपनी दुकान में स्टेशनरी और किराना का कार्य भी शुरू कर दिया है। पिंकी राज्य शासन की योजना और आजीविका मिशन को बहुत अच्छा बताती हैं और आभार प्रकट करती हैं।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close