नरसिंहपुर

कलेक्टर ने ग्राम पंचायतों का किया औचक निरीक्षण

जनसुनवाई का जायजा लिया- ग्रामवासियों से रूबरू चर्चा

नरसिंहपुर16 जुलाई 2019. कलेक्टर दीपक सक्सेना ने जनपद पंचायत करेली की ग्राम पंचायत रांकई- पिपरिया और जनौर का मंगलवार को औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में सीईओ जिला पंचायत केके भार्गव साथ में थे। यहां उन्होंने जनसुनवाई कार्यक्रम का जायजा लिया। ग्रामवासियों से रूबरू चर्चा कर उनकी समस्यायें जानी। समस्याओं के निराकरण के लिए कलेक्टर ने आवश्यक निर्देश दिये।

         ग्राम पंचायत जनौर में ग्राम पंचायत की सरपंच कल्पना पटैल मौजूद थी। ग्राम पंचायत के सचिव एवं जीआरएस अनुपस्थित थे। कलेक्टर ने ग्राम पंचायत सचिव एवं जीआरएस को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश सीईओ जनपद को दिये।

         निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने जनसुनवाई में प्राप्त आवेदनों और पूर्व में हुई जनसुनवाई में आये आवेदनों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने रजिस्टर का अवलोकन भी किया। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना, अतिक्रमण की रिपोर्ट एवं इसके वाचन, दस्तक अभियान, ग्राम सभा के आयोजन, ग्राम की समस्याओं, पटवारी के ग्राम पंचायत में बैठने के दिन एवं समय, कल्याणी/ सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना, मनरेगा के कार्यों, लंबित आवेदनों आदि के बारे में जानकारी ली और आवश्यक निर्देश दिये।

         पिपरिया- रांकई में मो. अमीन ने अपने बंटवारा के लंबित मामले के बारे में कलेक्टर को बताया। प्रभारी ग्राम पंचायत सचिव एवं जीआरएस शाह उमर ने ग्राम पंचायत से संबंधित कार्यों एवं गतिविधियों के बारे में जानकारी दी।

         जनौर में कलेक्टर ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता से दस्तक अभियन के बारे में जानकारी ली। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने बताया कि गांव में हीमोग्लोबिन/ खून की कमी वाले 2 बच्चे मिले हैं, इनकी जांच कराई गई है। कलेक्टर ने इन बच्चों को एनआरसी में शीघ्र भर्ती कराने के लिए कहा। गांव की रेवा बाई ने अपने आवास की समस्या बताई। इसी तरह सियाबाई ने अपने मकान में पानी भर जाने और कच्ची दीवार होने की बात बताई। इन मामलों में आवश्यक कार्रवाई के निर्देश कलेक्टर ने दिये।

         ग्रामवासियों ने गांव में दो हेंडपंपों की आवश्यकता और नाले के पानी की समस्या बताई। कलेक्टर ने नाले के पानी की समुचित निकासी कराने पर जोर दिया।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close