नरसिंहपुर

स्टेंडिंग कमेटी की बैठक सम्पन्‍न

राजनैतिक दलों को नगरीय निकायों की मतदाता सूची तैयार करने के कार्यक्रम की दी गई जानकारी

त्रुटिरहित व पूर्णत: शुद्ध मतदाता सूची तैयार हो

नरसिंहपुर12 जुलाई 2019. राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदाता सूची के सतत पुनरीक्षण वर्ष 2019 के अंतर्गत जिले के नगरीय निकायों की फोटो मतदाता सूची तैयार करने के समयबद्ध कार्यक्रम व प्रक्रिया की राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों को जानकारी देने के उद्देश्य से कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में स्टेंडिंग कमेटी की बैठक कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी दीपक सक्सेना की अध्यक्षता में शुक्रवार को सम्पन्‍न हुई। बैठक में मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा मतदाता सूची वार्षिक पुनरीक्षण- 2019 (नगरीय निकाय) के कार्य के लिए नरसिंहपुर जिला हेतु नियुक्‍त प्रेक्षक भारतीय प्रशासनिक सेवा के सेवा निवृत्‍त अधिकारी आरआर गंगारेकर विशेष रूप से मौजूद थे।

         श्री सक्सेना ने नगरीय निकायों की मतदाता सूची तैयार करने के कार्यक्रम एवं प्रक्रिया से राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों को अवगत कराया। उन्होंने कहा कि आयोग की मंशा है कि त्रुटिरहित एवं पूर्णत: शुद्ध मतदाता सूची तैयार हो और इसमें किसी भी पात्र मतदाता का नाम शामिल होने से नहीं छूटे। साथ ही अपात्र मतदाताओं के नाम हटाये जावें और आवश्यकतानुसार संशोधन किया जावे। मतदाता सूची तैयार करने की प्रक्रिया पूर्णत: पारदर्शी रहे। चुनाव में हर वोट कीमती और हर निकाय महत्वपूर्ण है।

         कलेक्टर श्री सक्सेना ने बताया कि नगरीय निकायों की मतदाता सूची एक जनवरी 2019 को आधार मानकर तैयार की जा रही है। इसके लिए प्राधिकृत अधिकारी एवं प्राधिकृत कर्मचारी नियुक्त किये जा चुके हैं तथा मतदाता सूची के प्रारूप प्रकाशन पर संबंधित मतदान केन्द्रों पर दावे- आपत्तियां प्राप्त की जायेंगी। उन्होंने बताया कि नगरीय निकायों की मतदाता सूची तैयार करने के 17 जून से प्रारंभ हुए कार्य के तहत नगरीय निकायों के वार्डों एवं विहित स्थानों पर प्रारूप मतदाता सूची का प्रकाशन 21 अगस्त को किया जायेगा तथा 30 अगस्त को अपरान्ह 3 बजे तक दावे- आपत्तियां प्राप्त की जायेंगी। दावे- आपत्तियां प्राप्त करने के लिए संबंधित मतदान केन्द्रों पर बीएलओ मौजूद रहेंगे। वे मतदाता सूची में नाम जोड़ने, हटाने, संशोधित या अपील करने के फार्म नि:शुल्‍क उपलब्ध करायेंगे। इस बार के फार्म का प्रारूप पिछलीबार से अलग होगा।  प्राप्त दावे- आपत्तियों का निराकरण पांच सितंबर तक होगा तथा अंतिम रूप से तैयार फोटोयुक्त मतदाता सूची का प्रकाशन 25 सितंबर को किया जायेगा। उन्होंने बताया कि परिसीमन की वजह से जिले के नरसिंहपुर, गोटेगांव एवं करेली नगरीय निकायों की मतदाता सूची का पुनरीक्षण अभी नहीं किया जा रहा है।

         बैठक में श्री सक्सेना ने विधानसभा निर्वाचन की मतदाता सूची में नये एवं बढ़े हुये मतदाताओं को नगरीय निकाय के वार्ड/ पंचायत में शिफ्ट करने, विधानसभा की मतदाता सूची से विलोपित मतदाताओं को नगरीय निकाय की मतदाता सूची से हटाने के लिए विलोपन- सत्यापन और विधानसभा की मतदाता सूची में मतदाताओं की संशोधित जानकारी को नगरीय निकाय के वार्ड की मतदाता सूची में संशोधित करने के सत्यापन की प्रगति से अवगत कराया।

         बैठक में राज्य निर्वाचन आयोग के प्रेक्षक आरआर गंगारेकर ने राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों को बताया कि कोई भी वैध मतदाता का नाम शामिल होने से न छूटे तथा अपात्रों के नाम मतदाता सूची में नहीं रहें, इसी उद्देश्य को लेकर नगरीय निकायों की मतदाता सूची तैयार करने का समयबद्ध कार्यक्रम राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा तय किया गया है।  उन्होंने राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों से कहा कि मतदाता सूची में प्रत्येक पात्र मतदाता का नाम शामिल हो इसके लिए उन्हें भी सक्रियता से प्रयास करने होंगे। श्री गंगारेकर ने कहा कि नगरीय निकायों का चुनाव लड़ने के इच्छुक व्यक्तियों को भी मतदाता सूची तैयार करने की प्रक्रिया के तहत यह सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि उनका नाम मतदाता सूची में है या नहीं।  यदि नहीं है तो वे निर्धारित प्रक्रिया का पालन कर अपने नाम मतदाता सूची में शामिल करवा सकते हैं। उन्होंने कहा कि राजनैतिक दलों को यदि मतदाता सूची पुनरीक्षण के कार्य में कुछ कमियां नजर आती हैं, तो वे इस बारे में उनसे संपर्क कर सकते हैं। श्री गंगारेकर ने कहा कि सभी मान्यता प्राप्त राजनैतिक दल मतदाता सूची तैयार करने के संबंध में प्रत्येक वार्ड के लिए अपना एजेंट नियुक्‍त कर सकते हैं।

         बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) एवं अपर कलेक्टर मनोज ठाकुर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी केके भार्गव, एसडीएम महेश कुमार बमनहा, राजेश शाह व जीसी डेहरिया, डिप्टी कलेक्टर संघमित्रा बौद्ध, तहसीलदार/ नायब तहसीलदार/ निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण व सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी, नगरीय निकायों के मुख्य नगर पालिका अधिकारी और राजनैतिक दलों के पदाधिकारी मौजूद थे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close