गाडरवारा

करोड़ों का आसामी निकला पंचायत सचिव

गाडरवारा। आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो जबलपुर की 52 सदस्यीय टीम ने गुरुवार को जनपद चीचली के अंतर्गत ग्राम हीरापुर निवासी पंचायत सचिव भागवेन्द्र कौरव के मकान सहित दो अन्य जगहों पर छापामार कार्रवाई की। जांच में एक करोड़ से अधिक की संपत्ति के दस्तावेज मिले हैं। हीरापुर के पू्र्व संरपच कपिल लमानिया ने वर्ष 2012 में आय से अधिक संपत्ति की शिकायत की थी। करीब सात साल चली जांच के बाद आरोप सही पाए जाने पर टीम ने कार्रवाई की।

पंचायत सचिव भागवेन्द्र कौरव का मकान हीरापुर गांव में बाहर खेत में बना हुआ है, जहां बंद कमरे में घंटों जांच चलती रही। इस दौरान टीम ने बारीकी से सभी चीजों की पड़ताल की। जानकारी के मुताबिक टीम ने 30 एकड़ जमीन के दस्तावेज बरामद किए हैं। इसमें एनटीपीसी के पास रायपुर मौजा में बेटों के नाम से करीब 50 लाख की 3 एकड़ जमीन खरीदी है। टीम को विभिन्न बैंक पासबुकें, कुछ नकदी रुपए, तीन बाइक, एक चार पहिया वाहन, करीब एक किलो सोने चांदी के जेवरात भी मिले हैं।

जांच टीम ने सचिव की वर्तमान पदस्थापना के चोरबरहटा पंचायत भवन को सील कर दिया है। जांच दल की सीनियर इंस्पेक्टर शशिकला मर्सकोले ने बताया कि विभागीय अनियमितता की शिकायत पर जांच में अपराध पाए जाने पर सर्च कार्रवाई की गई है। जांच दल ने आरोपी के विरुद्ध भ्रष्टाचार अधिनियम की धारा 13-1ए, 13-1बी, 13-2 के तहत कार्रवाई की। टीम में निरीक्षक स्वर्णजीत धामी, उप निरीक्षक खान, गोविन्द एवं पुलिस बल शामिल था, टीम में करीब लगभग १२ महिला कर्मी भी शामिल थीं।

स्वर्णजीत सिंह धामी
निरीक्षक
आर्थिक अपराध ब्यूरो जबलपुर

Tags

Related Articles

Back to top button
Close