नई दिल्ली

गृह मंत्रालय ने दिए सिख दंगों की जांच के आदेश,बढ़ सकती है कांग्रेस नेता कमलनाथ की मुश्किल

नई दिल्ली : शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष और पंजाब से सांसद सुखबीर सिंह बादल ने कांग्रेस नेता कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा है कि कमलनाथ के खिलाफ न्याय का चक्र शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि शिरोमणि अकाली दल जल्द ही 1984 दं’गों की जांच कर रही SIT से मिलेगी और कमलनाथ के खिलाफ सबूत सौंपेगी।

सुखबीर सिंह बदल ने ट्वीट करते हुए लिखा, “मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ न्याय के पहिए चलने लगे हैं। गृह मंत्रालय ने एसआईटी से कमलनाथ के खिलाफ शिरोमणि अकाली दल के शिकायत की जांच करने को कहा है। शिरोमणि अकाली दल जल्द एसआईटी से मुलाकात करेगा और गवाहों के नाम देगा।”

गौरतलब है कि दिल्ली विधानसभा के सदस्य और शिरोमणि अकाली दल के नेता मजिंद्र सिंह सिरसा ने 15 जून को जानकारी दी थी कि गृह मंत्रालय कमलनाथ के खिलाफ जांच शुरू करने के आदेश दे चुकी है।

मजिंदर सिंह सिरसा के हवाले से एएनआई ने ट्वीट किया था, “गृह मंत्रालय ने एसआईटी से बंद पड़े 1984 सिख दं’गो की जांच दुबारा शुरू करने को कहा है। गृह मंत्रालय ने मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ की भूमिका की नए सिरे से जांच करने को कहा है। अब मामले की फिर से जांच के साथ, कमलनाथ सज्जन कुमार की तरह जेल जाएंगे जो गांधी परिवार के कारण Z + सुरक्षा का आनंद ले रहे थे। 1984 में हुए दं’गों में उनकी संलिप्तता उनके खिलाफ नई जांच पूरी होने के बाद अदालत में साबित होगी।

बता दें कि विशेष जांच दल (एसआईटी) ने साल 1984 के सिख विरोधी दं’गों की जांच शुरू कर दी है. दैनिक जागरण की खबर के मुताबिक फरवरी, 2019 में सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में दर्ज 1254 मुकदमों की दोबारा समीक्षा के आदेश दिए थे. लेकिन चुनावी आचार संहिता लागू होने की वजह से जांच रुक गई थी. पुलिस ने इनमें से 1101 मामलों में फाइनल रिपोर्ट और 153 में आरोपपत्र दाखिल किए हैं.

Tags

Related Articles

Back to top button
Close