नई दिल्ली

ऐसे लें मुद्रा योजना का लाभ, छोटा लोन लेकर शुरू करें अपना कारोबार

नई दिल्ली। अगर कोई व्यक्ति अपना व्यापार (Business) शुरू करना चाहता है या फिर अपने मौजूदा कारोबार को आगे बढ़ाना चाहता है और उसके लिए पैसे की जरूरत है तो आप प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के तहत 10 लाख रुपए तक के लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं। सरकार ने लघु उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए Mudra (Micro Units Development Refinance Agency) Scheme की शुरुवात अप्रैल 2015 में की थी| बता दें कि, देश में छोटे और मध्यम आकार के उद्योगों (Small Business/MSME) की वित्तीय आवश्यकताओं (Financial Needs) को पूरा करने के लिए सरकार ने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) की शुरुआत की थी।

क्या है मुद्रा योजना (PMMY) का मकसद 

केंद्र सरकार की मुद्रा योजना (PMMY)के दो उद्देश्य हैं- पहला, स्वरोजगार के लिए आसानी से लोन देना। दूसरा, छोटे उद्यमों के जरिए रोजगार का सृजन करना। अगर आप भी अपना कारोबार शुरू करने के लिए पूंजी की समस्या का सामना कर रहे हैं तो केंद्र सरकार की PMMY से आप अपने सपने को साकार कर सकते हैं। सरकार की सोच यह है कि आसानी से लोन मिलने पर बड़े पैमाने पर लोग स्वरोजगार के लिए प्रेरित होंगे। इससे बड़ी संख्या में रोजगार के मौके भी बनेंगे। मुद्रा योजना (PMMY) से पहले तक छोटे उद्यम के लिए बैंक से लोन लेने में काफी औपचारिकताएं पूरी करनी पड़ती थीं। लोन लेने के लिए गारंटी भी देनी पड़ती थी। इस वजह से कई लोग उद्यम तो शुरू करना चाहते थे, लेकिन बैंक से लोन लेने से कतराते थे।

मुद्रा योजना के लाभ (Benefits of Mudra Yojana)

मुद्रा स्कीम के तहत सामान्यत: बिना गारंटी (Without Guarantee) के Loan प्रदान किए जाते हैं।
Loan प्रदान करने में किसी भी तरह की Processing Fees चार्ज नहीं की जाती है।
इस लोन की पुनः भुगतान अवधि (Repayment Period) को 5 वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है।
Working Capital Loan को Mudra Card के द्वारा प्रदान किया जा सकेगा।
इस योजन से जुड़ी योग्यताएं (Eligibility of Mudra Loan Scheme)
कोई भी भारतीय नागरिक या फर्म जो खेती को छोड़कर किसी भी अन्य व्यवसाय (Business) को शुरू करना चाहता हैं या फिर अपने वर्तमान व्यवसाय को आगे बढ़ाना चाहता हैं और उसकी वित्तीय आवश्यकता (Financial Needs) 10 लाख रूपए तक हैं वह प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Mudra Loan Scheme) के तहत Loan के लिए आवेदन कर सकते हैं।
महिलाओं पर फोकस
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) का पूरा नाम माइक्रो यूनिट डेवलपमेंट रीफाइनेंस एजेंसी (Micro Units Development Refinance Agency) है। मुद्रा योजना (PMMY) की खास बात यह है कि इसके तहत लोन लेने वाले चार लोगों में से तीन महिलाएं हैं। PMMY के लिए बनाई गयी वेबसाइट के मुताबिक 23 मार्च 2018 तक मुद्रा योजना के तहत 228144 करोड़ रुपए के लोन मंजूर किए जा चुके हैं। सरकार ने मुद्रा योजना के तहत इस साल 23 मार्च तक 220596 करोड़ रुपए के लोन बांटे हैं।
मुद्रा लोंन के प्रकार
Mudra Scheme (मुद्रा योजना) के तहत  Mudra Loan को विभिन्न व्यवसायों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए तीन भागों में विभाजित किया है। मुद्रा योजना के तहत loan के तीन प्रकार हैं-
Shishu Loan: शिशु ऋण के तहत 50,000/ रुपए तक के loan दिए जाते हैं।
Kishor Loan: किशोर ऋण के तहत 50,000 रुपए के ऊपर और 5 लाख रूपए तक के लोन दिए जाते हैं।
Tarun Loan: तरुण ऋण के तहत 5 लाख रुपए से ऊपर और 10 लाख रुपए तक के loan दिए जाते हैं।
मुद्रा योजना के तहत कम से कम 60 प्रतिशत ऋण, शिशु ऋणों के रूप में दिया जाएगा।
क्या है मुद्रा लोन (PMMY) पर ब्याज दरें? (Interest Rates of Mudra Bank Loan)
Mudra Loan के तहत कोई निश्चित ब्याज दर (Interest Rate) नहीं हैं। ब्याज दर विभिन्न बैंकों में अलग-अलग हो सकती हैं तथा आवेदक के Business की Risk के आधार पर भी Bank Interest Rate भिन्न-भिन्न हो सकती है। सामान्यत: Mudra Loan की Interest Rate 12 प्रतिशत प्रति वर्ष के आस-पास होती है। Mudra Loan Scheme के तहत सरकार की तरफ से कोई भी सब्सिडी नहीं दी जाती। अगर आवेदक ने किसी अन्य योजना के तहत किसी सब्सिडी के लिए आवेदन किया है जिसमें सरकार कैपिटल सब्सिडी प्रदान करती हैं तो उस सब्सिडी को Mudra Loan से लिंक किया जा सकता हैं।
क्या हैं प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के लाभ?
मुद्रा योजना (PMMY) के तहत बिना गारंटी के लोन मिलता है। इसके अलावा लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं लिया जाता है। मुद्रा योजना (PMMY) में लोन चुकाने की अवधि को 5 साल तक बढ़ाया जा सकता है। लोन लेने वाले को एक मुद्रा कार्ड मिलता है, जिसकी मदद से कारोबारी जरूरत पर आने वाला खर्च किया जा सकता है।
आप कैसे ले सकते हैं PMMY लोन? (How to Apply for PMMY Loan)
मुद्रा योजना (PMMY) के तहत लोन के लिए आपको सरकारी या बैंक की शाखा में आवेदन देना होगा। अगर आप खुद का कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो आपको मकान के मालिकाना हक या किराए के दस्तावेज, काम से जुड़ी जानकारी, आधार, पैन नंबर सहित कई अन्य दस्तावेज देने होंगे। बैंक का ब्रांच मैनेजर आपसे कामकाज से बारे में जानकारी लेता है। उस आधार पर आपको PMMY लोन मंजूर करता है। कामकाज की प्रकृति के हिसाब से बैंक मैनेजर आपसे एक प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनवाने के लिए कह सकता है।

विशेष- PMMY के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप इस वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं: http://www.mudra.org.in/

Tags

Related Articles

Back to top button
Close